What is Li-Fi – क्या है लाई-फाई?

What is LiFi का पूरा नाम Light Fidelity हैं। यहा एक वायरलेस ऑप्टिकल नेटवर्किंग टेक्नोलॉजी है। जिसमे डेटा ट्रांसमिशन के लिए Light-Emitting Diodes यानी LED Lights का उपयोग किया जाता हैं। LiFi टेक्नोलॉजी की शुरुवात University of Edinburgh के प्रोफेसर हराल्ड हास (harald haas) ने की थी। 2011 में उन्होंने LiFi Concept को लोगो के सामने रखा था। और उन्होंने ये बताया ली light की मदद से हम कैसे अपने डेटा का ट्रांसमिशन या कम्युनिकेशन कर सकते है। उसके बाद से वो इस टेक्नोलॉजी पे काम करते आ रहे है।

What is Li-Fi

What is Li-Fi – क्‍या है लाई-फाई?

LiFi Technology light Fidelity बाकि सभी टेक्नोलॉजी जो डेटा का ट्रांसमिशन या कम्युनिकेशन करती है, उन सब के मुकाबले कई गुना तेज काम करने वाली टेक्नोलॉजी है, इसके एक परीक्षण में प्रोफेसर Harald Haas ने डेटा को ट्रांसफर कर के दिखाया था तो उस टाइम पर LiFi के जरिये 224 GB/Sec की स्पीड से डाटा को ट्रांसफर किया गया था।

How LiFi Works? LiFi काम कैसे करता हैं?

LiFi टेक्नोलॉजी को पूरा करने में छोटी- बड़ी बहुत सारी टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया हैं। नीचे दिए गए चित्र में दिखाया गया है, की LiFi टेक्नोलॉजी कैसे काम करती हैं।

lifi Working Process

दोस्तों LiFi टेक्नोलॉजी VLC (Visible Light Communication) पर आधारित है। जैसा की आपके घर के टीवी का रिमोट काम करता है। जब भी आप रिमोट के button को दबाते है तो रिमोट में लगी हुयी LED light से सिग्नल टीवी में लगे रिसीवर में जाता है और रिसीवर सिग्नल मिलने पर अपना काम करता है। तो LiFi भी VLC पर काम करता है।

How To Use LiFi? LiFi का उपयोग

LiFi टेक्नोलॉजी में एक LED बल्ब होगा उस बल्ब के light रेंज जहाँ तक होगी वह तक LiFi की रेंज होगी। रेंज को बढाने के लिए अलग अलग बहुत से light लगायी जाएगी जिससे की आपके घर या ऑफिस के पुरे एरिया को cover किया जा सके, ये उसी प्रकार होगा जैसा की WiFi की रेंज को बढाने के एक के बाद एक बहुत से router को लगाया जाता हैं। आप light Spot के रेंज में होने पर internet या नेटवर्क का उपयोग कर पाएंगे।

Li-Fi के फायदे

  • Li-Fi का सबसे बड़ा फायदा यहाँ हैं की इसकी Speed WiFi के तुलना में कई गुना जायदा है।
  • Li-Fi अन्य सभी नेटवर्क से सबसे जायदा सुरक्षित नेटवर्क है।
  • Li-Fi में बहुत सरे डिवाइस एक साथ कनेक्ट हो सकते है और उसके बाद भी इससे speed में कोई अंतर नहीं आता है।

Leave a Reply