What is IP Address- IP address क्या होता हैं?

What is IP Address- IP address क्या होता हैं?

What is IP Address? Internet Protocol क्या होता हैं. दोस्तों internet हमारी दुनिया बन चुकी है, इसने हमारे बीच की लाखो लम्बी दुरिओ को ख़तम कर दिया हैं. internet की मदद से हम लाखो  मीलो दूर अपने दोस्तों या परिजनों से मिनटों में जुड़ सकते है. सोशल मीडिया के जरिये अब हम नए नए दोस्त बना कर उनसे बाते कर उनसे जुड़ सकते हैं. सिर्फ एक बटन दबा के ही हम किसी से भी पुरे दुनिया में बाते कर सकते हैं और विडियो कॉल, फोटो, आदि share कर सकते हैं।
दोस्तों ये सब कुछ internet IP address की मदद से ही कर पता हैं। IP address से ही internet को पता चलता हैं की कोनसा Data कहा भेजना हैं। इसी के मदद से ही हम अपने दोस्तों से Connect हो पाते हैं. और Communicate कर पाते हैं। तो चलिए जानते हैं की आखी IP Address क्या होता हैं।

What is IP Address- IP Address क्या हैं:

IP Address का मतलब Internet Protocol होता हैं। यह एक Numerical Lable होता हैं। जो की Network में Connected सभी Devices जैसे Computer, Mobile, Printers आदि को Identification  पहचान देने का काम करता हैं। कोई भी IP Address मुख्य तौर पर दो काम करता हैं। एक तो Host के Network Interface की Identification के लिए और दूसरा Device की Location को identify करने के लिए।

दोस्तों जब Designers ने   IP Address को डिज़ाइन किया था तो IP Address एक 32 bit का Number था और इस System को IPv4 कहा गया था। But दोस्तों अब Internet की ग्रौथ इतनी ज्यादा बड़ा गयी है की, ये 32 bit Number System का  IP Address कम पड़ने  लगे तो Designers ने एक नया IP Address System को लांच किया. जिसको IPv6 कहा जाता हैं। हलाकि अभी भी IPv4 ज्यादा Popular है। पर  Future में यहाँ सब IPv6 में Convert हो जायेगा।

दोस्तों ये नया IP Address System जो IPv6 कहलाता हैं। इसमे 128 bit address होते हैं। और इसे 1995 में Develop किया गया था। और IPv6 को Standardized 1998 में किया गया था।जबकि Deployment Mid 2000 से Start किया गया।

IP Address के उदाहरण:

IPv4 Address: 192.168.44.12

IPv6 Address: 2005:db8:0:1325:0:539:8:1

इससे भी पड़े: – What is internet- क्या हैं Internet?

What is Public and Private IP Addresses:

दोस्तों IP Address को दो टाइप में बाटा गया हैं। Private IP Addresses और Public IP Addresses.

1.Private IP Addresses :

दोस्तों जब कई Computer और Devices, LAN केबल या फिर वायरलेस मध्याम से एक दुसरे से Connected होते हैं, तब वे एक प्राइवेट नेटवर्क बनाते हैं। इस नेटवर्क के भीतर प्रत्येक डिवाइस को फ़ाइलों और Data को शेयर करने के लिए एक यूनिक IP Address असाइन किया जाता हैं। इस नेटवर्क के सभी डिवासेस के IP Address  को Private IP Addresses कहा जाता हैं।

2. Public IP Addresses:

Public IP Addresses वह होता हैं, जिसे ISP (Internet Service Provider) देता हैं। इससे आपके होम नेटवर्क को बाहर की दुनिया मे पहचान मिलती हैं। यह IP Addresses पूरे इंटरनेट में यूनिक होता हैं।

What is Static or Dynamic IP Addresses?

1.Static IP Addresses:

Static IP Addresses वह होता हैं। जिन्हें Change या बदला नहीं  जा सकता हैं| जैसे दोस्तों IP Cemera, FTP Server, Email Servers, को access करने के लिए या फिर किसी रेमोर्ट कंप्यूटर को Access करने के लिए इसका use किया जाता हैं।

2.Dynamic IP Addresses:

दोस्तों Dynamic IP Addresses वह होते है। जिन्हें बार बार Change किया जा सकता हैं। जब भी device Internet से Connect होती हें। तो इन्हें  हर बार एक नया IP Addresses दिया जाता हैं। अधिकतर Internet User के पास उनके Computer के लिए Dynamic IP Addresses होता हैं। जिसे Internet Disconnect होने पर काट दिया जाता हैं। और दुवारा Connect होने पर नया IP Addresses मिलता हैं।

दोस्तों आशा करता हूँ की आपको IP Addresses के बारे में दि गयी जानकारी पसंद आई होगीअगर आपके मन में कोई सबाल हैं तो आप मुझे comment में पूछ सकते हैं|

Leave a Reply